जिस प्लेन क्रैश में मारे गए थे 103 लोग, उस हादसे में मौत को मात दे लौटा 9 साल का बच्चा


कहते हैं ना कि जब तक भगवान ने सांसें लिखी हुई है, तब तक किसी भी हादसे में इंसान अपनी जान नहींगंवा सकता. अगर किस्मत में जीना लिखा है तो बड़े से बड़े हादसे भी शख्स का कुछ नहीज बिगाड़ पाते. ऐसा ही एक उदाहरण लीबिया में देखने को मिला था. यहां हुए एक दर्दनाक प्लेन क्रैश में कुल 103 लोगों की मौत हो गई थी. लेकिन सिर्फ एक शख्स इस हादसे में बच निकला. 9 साल के इस बच्चे को अब भगवान का दूत कहा जाने लगा. इस बच्चे ने चमत्कारिक तरीके से इस हादसे में मौत को मात दी थी.

9 साल के इस बच्चे की पहचान रुबेन वन असौ के तौर पर हुई. जब प्लेन जमीन से टकराने वाला था, उससे ठीक पहले ही बच्चा प्लेन से बाहर गिर गया.. बाहर गिरने के तुरंत बाद प्लेन जमीन से टकराया और जोरदार धमाके के साथ उसमें विस्फोट हो गया. इस हादसे में प्लेन के परखच्चे उड़ गए थे. ये हादसा करीब 12 साल पहले हुआ था. इस खौफनाक हादसे में बचा ये बच्चा अब तक हुए प्लेन हादसों में बचे सर्वाइवर्स में से चौदहवां था. इस हादसे में उसके पैर कई जगह से टूट गए थे लेकिन उसकी जान बच गई थी.

नहीं बचे थे मां-बाप
ये खौफनाक प्लेन हादसा 12 मई 2010 में हुआ था. बच्चे के माता-पिता इस हादसे में नहीं बच पाए. जब उसके इलाज के दौरान उससे पूछा गया कि वो कहां से है, तो उसने हॉलैंड जवाब दिया. इस हादसे में क्रैश हुआ विमान साउथ अफ्रीका के जोहानसबर्ग से उड़ा था. लेकिन ये लीबिया में क्रैश कर गया था. बच्चे के बचने को हर किसी ने चमत्कार बताया. ये प्लेन लीबिया की राजधानी में बने एयरपोर्ट के रनवे के बगल में ही क्रैश हुआ था. बताया जा रहा है कि पायलट ने उड़न के दौरान प्लेन में खराबी की बात कही थी.

boy survived plane crash

आतंकियों की साजिश का अंदेशा
अधिकारियों के मुताबिक़, घटना के वक्त आसमान साफ़ था और विजिबलिटी भी सही थी. ऐसे में मौसम की वजह से ये हादसा होने का सवाल पैदा नहीं होता है. अधिकारियों का मानना है कि इस हादसे के पीछे आतंकियों की साजिश हो सकती है. जिस बच्चे की जान इस हादसे में बची, उसके बारे में जानकारी मिली कि उसके रिश्तेदारों ने उसका ख्याल रखा. उसने तिलबुर्ग के योरे एलिमेंट्री स्कूल से पढ़ाई पूरी की. अब वो अपनी नॉर्मल लाइफ जीने की कोशिश कर रहा है.

Tags: Ajab Gajab, Khabre jara hatke, OMG, Weird news



Source link

%d bloggers like this: